10 बजे होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में समय से पहले पहुँच गए थे पीएम मोदी, अधिकारियों ने कहा अभी समय नहीं हुआ है तो पीएम मोदी बोले, “मैं तो…”

10 बजे होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में समय से पहले पहुँच गए थे पीएम मोदी, अधिकारियों ने कहा अभी समय नहीं हुआ है तो पीएम मोदी बोले, “मैं तो…”


इतने दिनों से राष्ट्रपति चुनाव यानि देश का सबसे बड़े पद का चुनाव होने की सुगबुगाहट देश में चल रही थी. ऐसे में 17 जुलाई को सोमवार सुबह से ही संसद भवन में 31 राज्यों के विधानसभा परिसरों में बनाए गए मतदान केंद्रों में 10 बजे से वोटिंग शुरू हो गई. इस राष्ट्रपति चुनाव पर पूरे देश की नजरे टिकी हुई है, क्योंकि वह भी ये जानने के लिए उत्सुक है कि भारत का अगला राष्ट्रपति आखिर कौन होगा? राष्ट्रपति पद के लिए राजग के रामनाथ कोविंद और यूपीए की उम्मीदवार मीरा कुमार के बीच सीधा मुकाबला है, जिनमें हालांकि मतों के आंकड़ों के गणित में मीरा के मुकाबले कोविंद का पलड़ा भारी माना जा रहा है




कोई नहीं डाल सकेगा फर्ज़ी वोट
इस राष्ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविंद को सत्तारूढ़ राजग के साथ-साथ जनता दल यू, बीजू जनता दल(बीजद), अन्नाद्रमुक, तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के साथ सभी छोटे बड़े दलों का समर्थन प्राप्त है, लेकिन दूसरी तरफ़ विपक्ष की मीरा कुमार के पक्ष में कांग्रेस सहित 17 दलों का समर्थन मिला हुआ हुआ है लेकिन इस बार राष्ट्रपति चुनाव में कोई भी जाली मतदान ने कर सके, उसके लिए चुनाव आयोग ने एक बहुत बड़ा फैसला लिया है जिसके बाद कोई भी फर्जी तरीके से वोट नहीं डाल सकेगा .


ख़ास पेन के ज़रिये दिया गया वोट

चुनाव आयोग के अनुसार राष्ट्रपति चुनाव एक सीक्रेट बेलेट पेपर के जरिए किया जायेगा जिसके लिए एक ख़ास तरीके के पेन सभी को दिया गया है जिसकी स्याही का रंग बैंगनी होगा और किसी और पेन से डाला गया मत अवैध माना जायेगा, राष्ट्रपति चुनाव एक खास तरीके की प्रक्रिया के अधीन किया जायेगा, ताकि कोई भी मतदाता फर्जी मत न डाल सके और उसको रोका जा सके, पिछली बार से इस बार चुनाव में लोगों को ज्यादा रूचि देखने को मिल रही है क्योंकि इस बार एक खास पेन को चुनाव आयोग ने रिलीज़ किया है



राष्ट्रपति चुनाव में मतदान के लिए लगभग 32 मतदान केंद्र बनाये गये है जिनमे से एक मतदान केंद्र संसद के कमरा नंबर 62 में बनाया गया है, जबकि सभी राज्यों के विधान सभा में उनके मतदान के लिए व्यवस्था की गई है जिसमे जाकर वह अपने मत का प्रयोग कर सकते है.


प्रधानमंत्री मोदी भी पहुंचे थे वोट देने लेकिन तभी हुआ कुछ ऐसा कि
राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव देने पीएम मोदी भी पहुंचे थे लेकिन इसी बीच कुछ ऐसा हुआ कि वहां मौजूद सभी अधिकारी हैरान रह गए. दरअसल हुआ यूँ कि राष्ट्रपति पद के लिए अपना वोट डालने पहुंचे थे लेकिन वो वहां वोटिंग शुरू होने से 10 मिनट पहले ही पहुँच गए थे. ऐसे में अचानक ही पीएम मोदी को अपने सामने देखकर पोलिंग ऑफिसर हैरान-परेशान रह गए.



अधिकारियों ने बोला अभी वोट देने में समय है तो पीएम मोदी ने…
राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान सुबह 10 बजे से शुरू होना था, लेकिन पीएम मोदी 10 मिनट पहले ही बूथ पर पहुंच गए. उन्हें वहां देखकर अधिकारियों ने उन्हें समझाया कि अभी वोटिंग में समय है जिसपर पीएम मोदी ने अधिकारियों की बात समझी और वहां सिर्फ इंतज़ार किया और समय होने के बाद ही अपना वोट डाला. यहाँ पीएम मोदी अब समय काटने के लिए अधिकारियों से मजाक में जुट गए. इन्होने पोलिंग पर ड्यूटी कर रहे अधिकारियों से कहा मज़ाकिया लहजे में कहा कि, “समय से पहले जगह पर पहुँचने की मेरी आदत बहुत पुरानी हैं, मैं तो अपने स्कूल भी जल्दी पहुँच जाता था.”


इसलिए पहुंचे थे पीएम मोदी जल्दी क्योंकि…

दरअसल पीएम मोदी के जल्दी पहुँचने का एक कारण ये भी था कि सोमवार को संसद के मॉनसून सत्र की शुरुआत था और साथ ही राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान भी होना था. यही सोचकर पीएम मोदी समय से पहले ही संसद पहुँच गए. बता दें यहाँ भी पीएम मोदी अकेले नहीं थे बल्कि उनके साथ बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद थे. संसद परिसर में पहले मोदी मीडिया से मिले थे. संसद पहुंचकर पीएम मोदी वोट देने से पहले विपक्षी सांसदों से मिले और उनसे सत्र के दौरान सहयोग की अपील भी की थी l


Share on Google Plus

Latest News, India News, Breaking News,Cricket, Videos Photos,News: India News, Latest Bollywood News, Sports News,Breaking News

Latest News, India News, Breaking News,Cricket, Videos Photos,News: India News, Latest Bollywood News, Sports News,Breaking News
    Blogger Comment

0 comments:

Post a Comment

Latest Update

तेजस्वी ने सोचा भी नहीं होगा कि उनके ट्वीट का जवाब जनता उन्हीं के अंदाज में दे देगी !

तेजस्वी ने सोचा भी नहीं होगा कि उनके ट्वीट का जवाब जनता उन्हीं के अंदाज में दे देगी ! पटना। बिहार में एनडीए की सरकार आने के बाद राजनीतिक...